हरियाणा को एक और एक्सप्रेसवे की सौगात, जानिए किन शहरों को मिलेगा फायदा

Spread the love

दिल्ली:  हरियाणा को एक और एक्सप्रेसवे की सौगात मिलने वाली है। यह ग्रीन फील्ड एक्सप्रेसवे (Green Field Expressway) 6 लेन और 86 किलोमीटर लंबा होगा। यह हाईवे हरियाणा के नारनौल से राजस्थान के अलवर तक बनाया जाएगा। इस प्रोजेक्ट पर करीब 1400 करोड़ रुपये खर्च होगा।Rewari: कोसली से लापता युवक का शव तीन दिन बाद नहर में मिला, रेवाडी में मची सनसनी

NH 222 11zon

करीब 86 किलोमीटर लंबा यह ग्रीनफील्ड एक्सप्रेसवे दिल्ली- मुंबई एक्सप्रेसवे को ट्रांस हरियाणा एक्सप्रेसवे से जोड़ेगा। अंबाला से मुंबई जाने के लिए वाहनों को दिल्ली में प्रवेश करना पड़ता है। दिल्ली में भारी ट्रैफिक के कारण 1.30 से 2 घंटे का अतिरिक्त समय लगता है। इतना ही जाम से वाहन चालको झूजना पडता है।

 

जानिए क्या है पूरा रूट
करीब 86 किलोमीटर लंबा यह एक्सप्रेसवे 6 लेन का बनाया जाएगा। इसकी शुरुआत एक्सप्रेसवे पर राजस्थान के अलवर से होगी। यह राजस्थान में कोटपुतली के पास पनियाला गांव के पास दिल्ली- जयपुर एक्सप्रेसवे से जुड़ा होगा। वर्तमान में ट्रांस हरियाणा एक्सप्रेसवे पनियाला के पास दिल्ली- जयपुर एक्सप्रेसवे से जुड़ा हुआ है।

 

इस एक्सप्रेसवे के बनने के बाद अब चंडीगढ़, पंचकुला, पंजाब या अंबाला से मुंबई की ओर जाने वाले ट्रैफिक को दिल्ली जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। अलवर- कोटपुतली- अंबाला एक्सप्रेसवे के माध्यम से लोग अलवर के पास दिल्ली- मुंबई एक्सप्रेसवे से जुड़ेंगे। REWARI: महेश्वरी से लडकी लापता, सीएम विंडो पर दी शिकायत

मुंबई आने- जाने में होगी घंटों की बचत
इस एक्सप्रेसवे के जरिए लोगों को अंबाला से मुंबई आने- जाने में 3 से 4 घंटे की बचत हो सकती है। यह एक्सप्रेसवे दिल्ली- एनसीआर पर ट्रैफिक का बोझ कम करेगा. इतना ही नहीं, मुंबई और उत्तर भारत के राज्यों में यात्रा का समय भी कम हो जाएगा।

 

!-- Composite Start -->